21 July 2024
पुनर्वास भूमि को मोटी रकम लेकर बेचने की अनुमति देने का आरोप…सूरजपुर पूर्व कलेक्टर ईफ्त आरा के विरुद्ध जांच का आदेश
आदेश आरोप प्रशासन बड़ी खबर मांग राज्य शिकायत

पुनर्वास भूमि को मोटी रकम लेकर बेचने की अनुमति देने का आरोप…सूरजपुर पूर्व कलेक्टर ईफ्त आरा के विरुद्ध जांच का आदेश

अम्बिकापुर।सूरजपुर पूर्व कलेक्टर ईफ्त आरा के विरुद्ध जांच का आदेश पत्र भारत सरकार की कार्मिक लोक शिकायत तथा पेंशन मंत्रालय के अवर सचिव रूपेश कुमार के द्वारा मुख्य सचिव छत्तीसगढ़ शासन रायपुर को भेजा है।

मामला पुनर्वास भूमि को मोटी रकम लेकर बेचने की अनुमति देने का है।
दरअसल डी०के० सोनी अधिवक्ता एवं आरटीआई कार्यकर्ता के द्वारा सूरजपुर के तत्कालीन कलेक्टर ईफ्त आरा के विरुद्ध दिनांक 20/3/2024 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष दस्तावेजों सहित शिकायत आवेदन प्रस्तुत किया गया था जिसमें यह उल्लेख किया गया कि राजस्व प्रकरण क्रमांक 202111262100047/अ-21/21-22 पक्षकार लक्ष्मी देवी प्रति बनिया देवीनाथ टोटल रब्बा 5 डिसमिल में तत्कालीन कलेक्टर सूरजपुर द्वारा भू माफियाओं से साठ-गांठ कर पुनर्वास भूमि की बिक्री करने की अनुमति देते हुए अवैध तरीके से लाखों रुपए प्रति डिसमिल की दर से राशि ली गई और पुनर्वास की भूमि के बिक्री की अनुमति दी गई।
राजस्व प्रकरण क्रमांक पक्षकार लक्ष्मी देवी प्रति कृष्णा सरकार व अन्य आदेश दिनांक 15/3/2023 टोटल रकबा 1.20 एकड़ एवं 42 डिसमिल, राजस्व प्रकरण क्रमांक 20229260100004/अ-21/19-20 पक्षकार पुष्पा प्रति अभिजीत सिंह व अन्य आदेश दिनांक 14/4/2023 टोटल रकबा 11.06, 0.14 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202210260600072/अ-21/22-23 पक्षकार राजेन्द्र प्रसाद साहू प्रति जय प्रकाश साहू आदेश दिनांक 15/2/2023 टोटल रकबा 0.010 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202210260600071/अ-21/22-23 पक्षकार महादेवी साहू प्रति जय प्रकाश साहू आदेश दिनांक 15/2/2023 टोटल रकबा 0.018 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202208262100010/अ-21/21-22 पक्षकार उषा रानी अन्य प्रति अमित कुमार अग्रवाल दिनांक 15/2/2023 टोटल रकबा 0.30 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक पक्षकार अशोक प्रति रितेश अग्रवाल आदेश दिनांक 7/12/2022 टोटल रकबा 0.106 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202205262600032/अ-21/21-22 पक्षकार गीता देवी प्रति सीमा बंसल व अन्य आदेश दिनांक 24/8/2022 टोटल रकबा 0.41, 1.36 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202205260600051/अ-21/21-22 पक्षकार श्रीराम व अन्य प्रति रेणुका आदेश दिनांक 15/7/2022 टोटल रकबा 0.38 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202205261200002/अ-21/21-22 पक्षकार अखिलेश कुमार पांडेय प्रति सुरेंद्र कुमार चौधरी आदेश दिनांक 12/10/2022 टोटल रकबा 0.027 हेक्टेयर , राजस्व प्रकरण क्रमांक 202205262100118/अ-21/21-22 पक्षकार निशा गुन प्रति अमित कुमार अग्रवाल आदेश दिनांक 15/2/2023 टोटल रकबा 0.72 हेक्टेयर , राजस्व प्रकरण क्रमांक 202203262100017/अ-21/21-22 पक्षकार राजेंद्र राय प्रति निशांत अग्रवाल आदेश दिनांक 26/4/2023 टोटल रकबा 0.41 हेक्टेयर , राजस्व प्रकरण क्रमांक 202203261200013/अ-21/21-22 पक्षकार देवचंद्र साहू प्रति प्रदुमन कुमार ठाकुर आदेश दिनांक 31/8/2022 टोटल रकबा 0.01 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202112262100022/अ-21/21-22 पक्षकार संजय कुमार विश्वकर्मा प्रति अजय कुमार विश्वकर्मा आदेश दिनांक 5/7/2023 टोटल रकबा 0.76 हेक्टेयर , राजस्व प्रकरण क्रमांक 202112260600031/अ-21/21-22 पक्षकार शिवबालक प्रति गीता साहू आदेश दिनांक 27/7/2022 टोटल रकबा 823.5 वर्ग फीट, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202112262600003/अ-21/21-22 पक्षकार रामप्रसाद व अन्य प्रति सुमित कुमार मित्तल आदेश दिनांक 21/9/2022 टोटल रकबा 10.28 हेक्टेयर , राजस्व प्रकरण क्रमांक 202202262100117/अ-21/21-22 पक्षकार कार्तिक विश्वास व अन्य प्रति जय भगवान आदेश दिनांक 28/9/2022 टोटल रखवा 0.60 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202202262100117/अ-21/21-22 , राजस्व प्रकरण क्रमांक 202303262100134/अ-21/22-23 पक्षकार बलराम साल प्रति विवेक अग्रवाल आदेश दिनांक 26/4/2023 टोटल रकबा 0.40 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202203262100011/अ-21/21-22 पक्षकार कानन देवी व अन्य प्रति अशोक अग्रवाल व अन्य आदेश दिनांक 21/12/2022 टोटल रकबा 0.54 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202212262100005/अ-21/22-23 पक्षकार दीपक देवनाथ व अन्य प्रति शैवी अग्रवाल आदेश दिनांक 19/3/2023 टोटल रकबा 1.00 एकड़, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202211262100036/अ-21/22-23 पक्षकार लक्ष्मी देवी प्रति कृष्णा सरकार व अन्य आदेश दिनांक 26/4/2023 टोटल रकबा 66 डिसमिल, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202210262100048/अ-21/22-23 पक्षकार सूरज विश्वास व अन्य प्रति विकास अग्रवाल आदेश दिनांक 26/4/2023 टोटल रकबा 0.44 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202210262100029/अ-21/22-23 पक्षकार कार्तिक विश्वास प्रति अभिषेक नागदेव आदेश दिनांक 11/1/2023 टोटल रकबा 1.30 एकड़, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202112262100030/अ-21/21-22 पक्षकार इंद्रजीत वैध प्रति पवित्र खराती आदेश दिनांक 21/9/2022 टोटल रकबा 0.40 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 20220262100039/अ-21/21-22 पक्षकार रंजीत कुमार प्रति नीलम आदित्य दिनांक 21/9/2022 टोटल रकबा 0.12 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202203262100009/अ-21/21-22 पक्षकार पंचानन विश्वास प्रति जय भगवान अग्रवाल आदेश दिनांक 28/9/2022 टोटल रकबा 0.40 हेक्टेयर, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202203262100008/अ-21/21-22 पक्षकार पिंटू विश्वास व अन्य प्रति आदित्य सिंह आदेश दिनांक 21/9/2022 टोटल रकबा 0.204 हेक्टेयर ,राजस्व प्रकरण क्रमांक 202203262100010/अ-21/21-22 पक्षकार राधा रानी प्रति गायत्री देवी व अन्य आदेश दिनांक 26/10/2020 टोटल रकबा 1.50 एकड़, राजस्व प्रकरण क्रमांक 202110262100026/अ-21/21-22 पक्षकार सुधा गोयल प्रति राहुल गर्ग आदेश दिनांक 18/1/2023 टोटल रकबा 0.007 , 0.21, 0.12 हेक्टेयर , राजस्व प्रकरण क्रमांक 20220362100018/अ-21/21-22 पक्षकार गनपत प्रति संस्कार गोयल आदेश दिनांक 21/9/2022 टोटल रकबा 0.14 हेक्टेयर , राजस्व प्रकरण क्रमांक 202102262100054/अ-21/20-21पक्षकार गौरी व अन्य प्रति प्रदीप कुमार आदेश दिनांक 28/9/2022 टोटल रकबा 1.23 हेक्टेयर में तत्कालीन कलेक्टर सूरजपुर द्वारा भू माफियाओं से साठ-गांठ कर पुनर्वास भूमि की बिक्री करने के अनुमति देने हेतु अवैध तरीके से लाखों रुपए प्रति डिसमिल कि दर से राशि ली गई और पुनर्वास भूमि के बिक्री की अनुमति दी गई है।
पूर्व कलेक्टर के द्वारा कुल 31 केश में अनुमति दी गई जिसमे बिना किसी दस्तावेज के जांच किए अनुमति दी गई क्रेता विक्रेता का हस्ताक्षर भी अपने सामछ सुनवाई में नही कराई सुनवाई किए बगैर स्थानांतरण होने के बाद बाइक डेट में सभी केशो में अनुमति दी गई ,
पूर्व कलेक्टर के भूमि दलाल जो सभी क्रेता विक्रेता से अनुमति की राशि की वसूली किया वह उमर सुन्नी उर्फ गुड्डू खान निवासी भवराही चौकी बसदेई थाना सूरजपुर है तथा क्लर्क संदीप विश्वकर्मा भी उनके साथ सामिल होकर कार्य किया है, जिसके माध्यम से करोड़ो रुपए की अवेध वसूली की गई है ,उमरसुन्नी उर्फ गुड्डू खान के द्वारा आदिवासी महिला के नाम पर भी कई जमीन लिया है जिसकी भी जांच करने की मांग किया गया है,
सूरजपुर के पूर्व कलेक्टर ईफ्त आरा के विरुद्ध प्रधानमंत्री कार्यालय को संपूर्ण दस्तावेज के साथ शिकायत की गई थी जिस पर दिनांक 1/5/2024 को भारत सरकार के कार्मिक लोक शिकायत तथा पेंशन मंत्रालय के अवर सचिव रुपेश कुमार के द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्य सचिव को पत्र भेजते हुए जांच करने हेतु लिखा गया उक्त पत्र की प्रतिलिपि डी०के० सोनी को भी भेजी गई। अब देखना यह है कि सूरजपुर के तत्कालीन कलेक्टर ईफ्त आरा के विरुद्ध जांच की जा रही है कि नहीं। इसके अलावा डी०के० सोनी के द्वारा दिनांक 21/3/2024 को उपरोक्त मामलो की शिकायत पुलिस महानिदेशक राज्य आर्थिक अपराध अन्वेषण ब्यूरो रायपुर के समक्ष प्रस्तुत किया गया है जिसकी भी जांच लंबित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *