13 June 2024
पिता का कुल्हाड़ी से काटा गला… दफनाने खोदा गड्डा, शव उठा नहीं पाया तो घर में ताला लगाकर भागा बेटा…..उदयपुर थाना क्षेत्र का मामला, आरोपी पुत्र हुआ गिरफ्तार… जानें क्यों दिया था घटना को अंजाम
कार्रवाई क्राइम राज्य

पिता का कुल्हाड़ी से काटा गला… दफनाने खोदा गड्डा, शव उठा नहीं पाया तो घर में ताला लगाकर भागा बेटा…..उदयपुर थाना क्षेत्र का मामला, आरोपी पुत्र हुआ गिरफ्तार… जानें क्यों दिया था घटना को अंजाम

अम्बिकापुर। पिता के बार-बार टोकने से नाराज बेटे ने कुल्हाड़ी से गला काटकर उसकी हत्या कर दी। पिता को दफनाने के लिए उसने गड्डा भी खोद लिया, लेकिन शव को नहीं उठा सका। इसलिए घर में ताला लगाकर भाग गया। दूसरे बेटे के आने पर हत्या का खुलासा हुआ। घटना उदयपुर थाना क्षेत्र की है।

दरअसल, ग्राम दौलतपुर निवासी दशरथ (56) पत्नी की मौत के बाद अपने बेटे ठाकुर राम (23) के साथ गांव से बाहर जंगल किनारे घर बनाकर रहता था। 4 जून से उसके घर में ताला लगा था। पिता और भाई नहीं दिखे, तो 5 जून को दूसरा बेटा रामसुंदर पिता से मिलने पहुंचा। लेकिन ताला लगा देखकर लौट आया।
6 जून को रामसुंदर फिर से पिता से मिलने गया, तो घर बंद मिला और अंदर से बदबू आ रही थी। उसने इसकी सूचना अपने भाइयों और गांव वालों को दी। जिसके बाद घर का ताला तोड़ा गया, तो दशरथ राम का शव खाट में पड़ा मिला। शव खून से लथपथ कंबल से लपेटा हुआ था। घटना की सूचना पर टीआई कुमारी चंद्राकर पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंची। जांच में दशरथ के गले में धारदार हथियार से काटे जाने का निशान मिला। पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।
पुलिस ने बेटे ठाकुर राम को तलाशी के दौरान 7 जून को गिरफ्तार कर लिया है। उसने बताया कि, पिता बार-बार रोक टोक करते थे। इसलिए परेशान होकर कुल्हाड़ी से गला काट दिया। हत्या के बाद वह घर में ताला लगाकर भाग गया था। आरोपी ठाकुर राम ने पिता के शव को ठिकाने लगाने के लिए दूसरे दिन घर के पास गड्डा भी खोदा। उसने पिता के शव को उठाने की कोशिश की, लेकिन शव भारी होने के कारण नहीं उठा पाया, तो घर में ताला लगाकर भाग गया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
सम्पूर्ण कार्यवाही मे थाना प्रभारी उदयपुर निरीक्षक कुमारी चंद्राकर,सहायक उप निरीक्षक दिलिप दुबे, आरक्षक अजय शर्मा सुरेन्द्र बारी,देवेंद्र सिंह विजय कुमार पैकरा, विवेक सिंह शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *