28 May 2024
नगर निगम की उदासीनता से अब जान आफत में.. बिलासपुर मार्ग पर 10 दिनों में हुई 4 घटनाएं,,,, 4 मवेशियों की भी हुई मौत,, कई बाइक सवार भी हुए घायल,,,, मणिपुर पुलिस ने लिखा निगम को पत्र,,, स्थिति यह की अभी भी गौठान बनी है सड़क,, कब रुकेगा आवारा मवेशियों के कारण दुर्घटनाओं का यह सिलसिला,,,,?
अनियमितता राज्य समस्या हादसा

नगर निगम की उदासीनता से अब जान आफत में.. बिलासपुर मार्ग पर 10 दिनों में हुई 4 घटनाएं,,,, 4 मवेशियों की भी हुई मौत,, कई बाइक सवार भी हुए घायल,,,, मणिपुर पुलिस ने लिखा निगम को पत्र,,, स्थिति यह की अभी भी गौठान बनी है सड़क,, कब रुकेगा आवारा मवेशियों के कारण दुर्घटनाओं का यह सिलसिला,,,,?

अंबिकापुर। आखिर क्या कारण है कि सबसे स्वच्छ अंबिकापुर की सड़कें इन दिनों गौठान में तब्दील हो चुकी है। आखिर ऐसी क्या मजबूरी है कि नगर निगम का इस ओर कोई भी ध्यान नहीं है। ‘सरगुजा एक्सप्रेस’ लगातार इस बड़ी समस्या को लेकर खबर चलाता रहा है। बावजूद इसके आलम यह है कि बिलासपुर चौक से लेकर मणिपुर थाना के बीच विगत 10 दिनों में चार मवेशियों की मौत बाइक सवार लोगों के टकराने से हो गई। सोमवार की रात लगभग 8:30 बजे एक और दुर्घटना में मवेशी के बछड़े ने दम तोड़ दिया वही बाइक सवार दो लोग घायल हो गए। मौके पर मणिपुर पुलिस भी पहुंच गई थी। मणिपुर थाना प्रभारी प्रदीप जायसवाल भी मौके पर स्थिति देखकर या कहने पर विवश हो गए कि आखिर सड़क पर बैठे इन मवेशियों को नगर निगम क्यों गौठान में या फिर कांजी हाउस में नहीं बंद कर रहा है। मणिपुर पुलिस के द्वारा नगर निगम को इस संबंध में पत्र लिखकर हर रोज हो रही इस दुर्घटना से अवगत भी कराया गया है बावजूद इसके आज भी स्थिति जस की तस है।

ऐसे मवेशी मालिकों पर क्यों नहीं होता है एफ आई आर

सड़क पर मवेशियों को छोड़ने वाले मालिकों पर पूर्व में नगर निगम के द्वारा f.i.r. कराए जाने की बात भी कही गई थी परंतु आज तक इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया। मवेशी मालिक बेखौफ होकर अपने मवेशियों को सड़क पर छोड़ दे रहे हैं जिससे आए दिन दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *