13 June 2024
देर रात मशीन थी चालू पर एक्स-रे विभाग से रेडियोग्राफर नदारत… मरीज परेशान… कारण बताओं नोटिस जारी
अनियमितता आरोप जांच राज्य स्वास्थ

देर रात मशीन थी चालू पर एक्स-रे विभाग से रेडियोग्राफर नदारत… मरीज परेशान… कारण बताओं नोटिस जारी

अंबिकापुर। रात के समय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कई अनियमितता की शिकायत अक्सर सामने आती रहती है बीती रात सड़क दुर्घटना में घायल रिफर मैरिज एक्स-रे के लिए विभाग में जाकर इंतजार करता रहा परंतु देर रात मशीन तो चालू थी पर रेडियोग्राफर नदारत थे। मामले की शिकायत के बाद प्रभारी अधीक्षक ने एक्स-रे विभाग के रेडियोग्राफर विनोद कुमार यादव को कारण बताओं नोटिस जारी किया है। शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय संबद्ध चिकित्सालय अम्बिकापुर में यह घटना कोई नहीं नहीं है। रात के समय अक्सर कर्मचारी नदारत रहते हैं। वहीं दूसरी ओर कतिपय दलाल जैसे लोग ज्यादा सक्रिय देखे हैं।

जानकारी के अनुसार महेंद्रगढ़ में ट्रैक्टर की टक्कर से घायल बाइक सवार एक व्यक्ति को महेंद्रगढ़ अस्पताल से रेफर करने पर देर रात मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया था। आपातकालीन में चिकित्सक ने उसकी जांच कर तत्काल सिटी स्कैन और एक्स-रे करने को कहा। सीटी स्कैन तो हो गया परंतु जब मरीज और परिजन एक्स-रे विभाग पहुंचे तो विभाग खुला था परंतु कोई भी कर्मचारी वहां मौजूद नहीं था। रात 1:00 बजे मरीज और परिजनों को एक्स-रे करवाने के लिए काफी परेशान होना पड़ा। आखिरकार रेडियोग्राफर के नदारत रहने से रात को एक्स-रे नहीं हो सका। शराफत अली नामक व्यक्ति ने इसकी शिकायत अधिकारियों से की। मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रभारी अधीक्षक डॉक्टर जे के रेलवानी ने कारण बताओ स्पष्टीकरण जारी किया है।

अनुशानहीनता एवं घोर लापरवाही की श्रेणी में आता है
यह कृत

जारी कारण बताओं नोटिस में रेडियोग्राफर विनोद कुमार यादव को कहा गया है कि आपकी ड्यूटी एक्स-रे विभाग में दिनांक 31.05.2024 को लगायी गयी थी किन्तु रात्रि 01:00 बजे लगभग आप बिना सूचना दिये अपने कार्य स्थल में अनुपस्थित थे. जिस कारण से मरीज का एक्स-रे नहीं हो पाया है, तथा मरीज को परेशानी का सामना करना पड़ा। आपका फोन नम्बर भी एक्स-रे विभाग में कही पर डिस्पले नहीं है जिससे आपके पास सीधे माध्यम से संपर्क किया जा सकें। प्राप्तकाल अधोहस्ताक्षरकर्ता के निरीक्षण के दौरान मरीज के परिजनों द्वारा आप से संपर्क करने पर आपके द्वारा यह कह गया कि अभी एक्स-रे नहीं करेगें आयुष्मान कार्ड ब्लाकिंग होने के बाद ही एक्स-रे हो सकेगा। इस सबंध में आपकी शिकायत प्राप्त हुई है। आप रात्रि 01:00 बजे ड्यूटी पर उपलब्ध नहीं पाये गये। आपका यह कृत्य सिविल सेवा आचरण अधिनियम 1965 के तहत् अनुशानहीनता एवं घोरलापरवाही की श्रेणी में आता है।

ड्यूटी कहीं और काम कहीं और

रात के समय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में निजी वाहन चालकों और निजी अस्पताल में मरीज को भेजने के लिए दलाल सक्रिय है। खासतौर पर अस्पताल में काम करने वाले कुछ सुरक्षा गार्ड इस काम में लिप्त है। हाल ही में एक सुरक्षा गार्ड को शिकायत पर हटाया गया था परंतु फिर से उसे ड्यूटी पर तैनात कर दिया गया। प्रिंस नामक उक्त गार्ड की ड्यूटी मेडिकल कॉलेज में लगा दिए जाने का दावा अधिकारी कर रहे हैं परंतु अभी भी उक्त सुरक्षा गार्ड अस्पताल में ही विभिन्न वार्डों में घूमता हुआ देखा जा सकता है। ऐसे में अस्पताल की सुरक्षा तो ताक पर है ही परंतु सबसे बड़ी बात यह है कि मरीजों को निजी अस्पताल हुआ निजी एंबुलेंस के बीच का यह गार्ड बन चुके हैं। लगातार इसकी शिकायत फिर से सामने आ रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *