26 May 2024
जाने किस स्कूल के हेडमास्टर विद्यालयीन समय में शराब के नशे में रहते हैं चूर ….छात्र-छात्राओं से अभद्र व्यवहार व पिटाई, सरपंच व ग्रामीणों ने बीईओ से की शिकायत,अभिभावकों ने कार्रवाई नहीं होने तक बच्चों को स्कूल जाने से रोका
आरोप राज्य शिक्षा

जाने किस स्कूल के हेडमास्टर विद्यालयीन समय में शराब के नशे में रहते हैं चूर ….छात्र-छात्राओं से अभद्र व्यवहार व पिटाई, सरपंच व ग्रामीणों ने बीईओ से की शिकायत,अभिभावकों ने कार्रवाई नहीं होने तक बच्चों को स्कूल जाने से रोका

अम्बिकापुर। सूरजपुर जिला के  रमकोला पूर्व माध्यमिक शाला पंडोपाड़ा स्कूल में प्रभारी प्रधान पाठक पर अपने अन्य शिक्षकों के साथ शराब पीकर बच्चों की पिटाई करने का आरोप लगाते हुए इसकी लिखित शिकायत सरपंच,अभिभावक और साला प्रबंधन समिति के अध्यक्ष द्वारा बीईओ कार्यालय प्रतापपुर में  किया गया है। सैकड़ो ग्रामीणों ने हस्तांतरित ज्ञापन सौंप करवाई की मांग की है।

ज्ञापन में आरोप लगाया गया है कि पूर्व माध्यमिक विद्यालय पंडोपारा के प्रभारी प्रधान पाठक के द्वारा शिक्षा के मंदिर को शराब का अड्डा बना लिया गया है।प्रभारी प्रधान पाठक बिसाहू सिंह विद्यालय में शराब पीकर बच्चों से मारपीट करते हैं। उनके द्वारा स्कूल कार्यालय में बैठकर अपने अन्य साथी शिक्षकों के साथ शराब पीकर बच्चों को मारता है,ऐसा मामला एक दिन की बात नहीं है,कई बार गांव वाले दारू के नशे की हालत स्कूल में देखा गया लेकिन शिक्षक गांव के होने से कोई शिकायत नहीं किए। यहां तक की दारू पीकर बच्चों के सिर में ईंट रखकर एक पैर में दौड़ता है जिसे लेकर भी अविभावक लोगों ने आपत्ति जताई है।गांव का शिक्षक होने के नाते ग्रामीणों ने कई बार उन्हें समझा कर छोड़ दिया गया लेकिन फिर भी सुधार नहीं हुआ। शिक्षक स्थानीय होने के चलते स्कूल आता भी नहीं है और जब भी आता है तो नशे की हालत में पाया जाता है और पढ़ाने के बजाय बच्चों को बिना कसूर का मारता है।

ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया की प्रभारी प्रधान पाठक सिंह के द्वारा शाला मरम्मत हेतु राशि पचास हजार रुपए आहरण कर लिया है और अभी तक कुछ स्कूल का मरम्मत भी नहीं कराया है। पंडोपारा स्कूल में पंडो जाति के बच्चे अधिक पढ़ाई करते हैं। जब शिक्षक बिसाहू सिंह द्वारा स्कूल कार्यालय रुम में दारू पीकर बच्चों को मारने लगे तब बच्चों का चीख पुकार सुनकर आसपास के अविभावक और शाला प्रबंधन समिति के अध्यक्ष आए और देखे की शिक्षक नशे में होश में नहीं थे। इसके बाद आविभावको ने इसकी सूचना ग्राम पंचायत रमकोला के सरपंच और जनपद सदस्य को दिए सूचना मिलने के दूसरे दिन सुबह स्कूल का निरक्षण करने पहुंचे और बच्चों का बयान लिए तो सारी बात सही पाई गई और उन्होंने वहां मौजूद अभिभावकों के समक्ष पंचनामा बनाया। अभी अभिभावकों ने बच्चों को स्कूल जाने से मना कर दिया है,अभिभावकों की मांग है शिक्षक बिसाहू सिंह को तत्काल बर्खास्त किया जाए और यहां से दूर हटा दिया जाए। इसकी लिखित शिकायत सरपंच,अभिभावक और साला प्रबंधन समिति के अध्यक्ष द्वारा बीईओ कार्यालय प्रतापपुर से किया गया है।

यह कहा अधिकारियों ने

इस विषय में विकासखंड शिक्षा अधिकारी एस ध्रुव ने बताया कि मामले की जांच तत्काल प्रारंभ कर ली गई है,सस्पेंशन की कार्यवाही के लिए जिला शिक्षा अधिकारी को भेजा गया है।
—————
जिला शिक्षा अधिकारी सूरजपुर राम ललित पटेल ने बताया कि जांच प्रतिवेदन आने के बाद  तत्काल कार्यवाही करते हुए सस्पेंड किया जाएगा, मामला काफी गंभीर है और जांच में सत्य पाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *