13 June 2024
छत्तीसगढ़ में शौण्डिक/सुंडी समाज बरसात में लगायेगा 5 लाख पौधे,विवाह अवसर पर मांस,मदिरा के पूर्ण प्रतिबंध की सोच…..माता राजमोहिनी देवी भवन में समाज का सम्मेलन 9 को,समाज के प्रतिभावान छात्रों, वरिष्ठों का करेंगे सम्मान
आयोजन पत्रकार वार्ता फैसला राज्य

छत्तीसगढ़ में शौण्डिक/सुंडी समाज बरसात में लगायेगा 5 लाख पौधे,विवाह अवसर पर मांस,मदिरा के पूर्ण प्रतिबंध की सोच…..माता राजमोहिनी देवी भवन में समाज का सम्मेलन 9 को,समाज के प्रतिभावान छात्रों, वरिष्ठों का करेंगे सम्मान

अम्बिकापुर। पर्यावरण की रक्षा हेतु वृक्षारोपण, जल है तो जीवन है, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, करें योग-रहें निरोग के संदेश के साथ एक आदर्श समाज के रूप में स्थापित हो रहे शौण्डिक/सुंडी समाज का सम्मेलन माता राजमोहिनी देवी भवन, पीजी कॉलेज के सामने अम्बिकापुर, सरगुजा छ.ग. में 9 जून को हो रहा है। यह सम्मेलन शौण्डिक/सुंडी समाज के संगठन की मजबूती के साथ ही सामाजिक, राजनैतिक, धार्मिक क्षेत्रों में अपनी भूमिका का निर्वहन तथा समाज/देशहित में कार्य करने के उद्देष्य से किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में समाज के प्रतिभावान छात्र/छात्राएं, समाज के गौरव और वरिष्ठ लोगों को सम्मानित भी किया जायेगा।

सर्व विदित हो कि शौण्डिक/सुंडी समाज के यह सम्मेलन नषा मुक्ति अभियान, सामाजिक कुरीतियों के उन्मुलन हेतु प्रयास, महिलाओं एवं युवाओं का सर्वांगीण विकास, प्रत्येक वर्ष समाज के ग्यारह युवतियों के विवाह में सहयोग, समाज के कमजोर वर्गों का उत्थान करने के एजेण्डे पर आधारित है। इस अवसर पर शौण्डिक/सुंडी समाज के द्वारा मोनो और झण्डा का भी विमोचन किया जायेगा। समाज के इस सम्मेलन में असमय मृत्युभोज पर सुझाव, मृत्यु पश्चात चंदनपान में वस्त्रदान के स्थान पर नगद प्रदान करने का निवेदन, विवाह के अवसर पर मांस एवं मदिरा का पूर्ण प्रतिबंध हेतु निवेदन एवं विवाह तथा अन्य अवसरों पर अन्न का दुरूपयोग न करने हेतु निवेदन किया जायेगा।
सर्व विदित हो कि शौण्डिक/सुंडी समाज सरगुजा के द्वारा शारदीय, नवरात्री में भण्डारा, महाषिवरात्री के अवसर पर भण्डारा, छठ पूजा के समय प्रसाद वितरण, हिन्दू नववर्ष रैली एवं अन्य समय पर पेयजल की व्यवस्था, भागवतकथा/श्रीरामकथा का आयोजन, कोविड-19 के समय जरूरतमंद लोगों को भोजन एवं मास्क वितरण सहित कई अच्छे कार्य समय-समय पर करती रहती है।
शौण्डिक/सुंडी समाज के इस सम्मेलन में मॉडल के तौर पर राजमोहिनी देवी भवन परिसर में अतिथियों के द्वारा पांच उपयोगी पौधों का वृक्षारोपण तथा एक हजार पौधा का वितरण कर उसे लगाने हेतु निवेदन किया जायेगा। समाज के द्वारा छत्तीसगढ़ प्रदेश में पांच लाख और पूरे देश में 1 करोड़ वृक्षारोपण का लक्ष्य रखा गया है। इस अवसर पर समाज के लोगों के द्वारा यह शपथ लिया जायेगा कि ‘हम वृक्षारोपण करेंगे, जल का बचाव करेंगे, बेटियों को षिक्षा हेतु प्रोत्साहित करेंगे, स्वस्थ रहने के लिए योग करेंगे और इन सभी कार्यों हेतु दूसरों को भी प्रोत्साहित करेंगे। राजमोहिनी भवन में पांच वृक्ष लगाकर लक्ष्य का शुरुआत करेंगे।
शौण्डिक/सुंडी समाज के इस सम्मेलन में छत्तीसगढ़ प्रदेश के सरगुजा, सूरजपुर, बलरामपुर, मनेन्द्रगढ़, कोरिया, जषपुर, बिलासपुर, रायपुर, धमतरी, कांकेर, जगदलपुर, दुर्ग सहित पड़ोसी जिले झारखण्ड प्रदेष के गढ़वा, लातेहार, गुमला एवं बिहार प्रदेश के लोग भी उपस्थित होंगे। आज प्रेस वार्ता के दौरान समाज के अध्यक्ष विजेंद्र कुमार गुप्ता, संरक्षक छगनलाल गुप्ता, दुर्गा प्रसाद गुप्ता, सलाहकार विजय गुप्ता, सचिव रवि भूषण गुप्ता, उपाध्यक्ष श्याम गुप्ता पप्पू, विजय गुप्ता, सह मीडिया प्रभारी विकास गुप्ता व आनंद कुमार गुप्ता मौजूद है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *