13 June 2024
किसने की यह बड़ी त्रुटि…सेवानिवृत व मृतक प्रधान पाठकों का नाम भी प्राविधिक वरिष्ठता सूची में कर दिया शामिल
अनियमितता आरोप बयान राज्य विरोध शिकायत शिक्षा

किसने की यह बड़ी त्रुटि…सेवानिवृत व मृतक प्रधान पाठकों का नाम भी प्राविधिक वरिष्ठता सूची में कर दिया शामिल

छत्तीसगढ़ शिक्षक संघ ने उठाए सवाल…संभागीय संयुक्त संचालक शिक्षा व डीईओ को सौंपा ज्ञापन

अंबिकापुर । छत्तीसगढ़ शिक्षक संघ ने संभागीय संयुक्त संचालक शिक्षा सरगुजा संभाग व जिला शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर 1 अप्रेल की स्थिति में जारी विभिन्न शिक्षक संवर्गों की राज्य स्तरीय प्रावधिक वरिष्ठता सूची में आवश्यक त्रुटि सुधार का आग्रह किया है। बताया गया है कि प्रधानपाठक (माशा) टी. संवर्ग की जारी प्रावधिक वरिष्ठता सूची 01 अप्रेल के क्रमांक 1 से 2011 तक की हार्डकॉपी का अवलोकन करने पर इसमें भारी त्रुटियां पाई गई हैं। अन्य संवर्गों की सूची में भी
यही स्थिति है। छत्तीसगढ़ शिक्षक संघ सरगुजा के जिला अध्यक्ष सीपी सोनी ने प्रेषित ज्ञापन में उल्लेखित किया है कि प्रधान पाठक माध्यमिक शाला टी.सवर्ग की संपूर्ण सूची में 309 सेवानिवृत प्रधान पाठकों का नाम आज पर्यन्त दर्ज है, मृतकों की जानकारी होने पर 450 से अधिक संख्या बढ़ना संभावित है। साथ ही
व्याख्याता व अन्य संवर्गों की वरिष्ठता सूची में भी यही स्थिति है। मात्र सरगुजा जिला से ही 13 प्रधानपाठकों की वरिष्ठता तिथि त्रुटिपूर्ण अंकित हैं कनिष्ठ का नाम वरिष्ठ से ऊपर दर्ज है। व्याख्याता व अन्य संवर्गों की वरिष्ठता सूची में भी भारी विसंगति है। मांग की गई है कि वर्ष 2013 में पदोन्नति से छूटे प्रधान पाठकों को वरिष्ठता प्रदान कर सूची में नाम वरिष्ठता के क्रम में दर्ज किया जाए। कहा गया है कि प्रधान पाठक (माशा) एवं – व्याख्याताओं के लिए अपने वर्तमान धारित पद के कोटे से ही पदोन्नति की कार्रवाई की जाए।
साथ ही जिला संभाग स्तर की फायनल वरिष्ठता सूची बनने के 3 पश्चात संचालनालय को प्रेषित करने के दो दिन पहले छत्तीसगढ़ म शिक्षक संघ सरगुजा को सूची अवलोकनार्थ उपलब्ध कराया जाए, ताकि स्वच्छ वरिष्ठता सूची की बनने में वे सहभागी हो सकें। शासन द्वारा बार-बार सेवा ना पुस्तिका से सत्यापन करने के निर्देश के बावजूद ऐसी स्थिति निर्मित होने पर दोषी विकासखंड वं शिक्षा अधिकारी व संबंधित शाखा ने लिपिक पर भी कार्रवाई निर्धारित की जाए। इस दौरान काफी संख्या में शिक्षक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *