28 May 2024
क़ृषि विभाग के संचालक का आदेश कोई नहीं सुनता: वरिष्ठ क़ृषि विस्तार अधिकारी कार्यालय में जमे हैं एक दशक से आरएईओ….गांवों में इससे क़ृषि विभाग की योजनाएं नहीं पहुंच रहीं
अनियमितता आरोप राज्य समस्या

क़ृषि विभाग के संचालक का आदेश कोई नहीं सुनता: वरिष्ठ क़ृषि विस्तार अधिकारी कार्यालय में जमे हैं एक दशक से आरएईओ….गांवों में इससे क़ृषि विभाग की योजनाएं नहीं पहुंच रहीं

अंबिकापुर। सरगुजा जिले के ग्रामीण इलाकों में ग्रामीण क़ृषि विस्तार अधिकारी फील्ड में ड्यूटी न कर अंबिकापुर ब्लाक के वरिष्ठ क़ृषि विस्तार अधिकारी कार्यालय में पोस्टेड हैं। इससे किसानों क़ो सरकारी योजनाओं का फायदा सही तरीके से नहीं पहुँचाया जा रहा है। कई सरकारी योजनाओं का क्रियान्वयन सही तरीके से नहीं किया जा रहा है, गोधन सहित अन्य मुख्यमंत्री की महत्तवाकांक्षी योजनाओं में लापरवाही बरती जा रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार अंबिकापुर के सरगाव स्थित वरिष्ठ क़ृषि विस्तार अधिकारी कार्यालय में पांच ग्रामीण क़ृषि विस्तार अधिकारी पोस्टेड हैं, जबकि इन्हें फील्ड में ड्यूटी करना है और क़ृषि विभाग की योजनाओ क़ो किसानों तक पहुँचाना होता है। ब्लाक आफिस में पोस्टेड आरएईओ सालों से पोस्टेड हैं और कई दफ़्तर भी नहीं आते हैं। एक आरएईओ तो एक दशक से इस दफ्तर में जमा हुआ है। बताया जाता है कि कुछ शराब के नशे में हमेशा रहते हैं। इससे विभाग की छवि खराब हो रही है लेकिन इसके बाद भी विभाग के अफसरों के द्वारा इस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जबकि ब्लाक आफिस से आरएईओ क़ो ग्रामीण क्षेत्र में पोस्टिंग नहीं किया जा रहा है। जबकि कई बार विभाग के संचालक ने दफ़्तरों से आरएईओ क़ो फील्ड भेजने निर्देश दिया है लेकिन इन कर्मचारियों के राजनैतिक दबाव के कारण अफसर कार्यवाही नहीं हो रही है।

जो आरएईओ गांव में पोस्टेड हैं वे भी गांव में नहीं रहते

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, गोबर ख़रीदी, खाद बीज वितरण सहित अन्य योजनाओं में लापरवाही बरती जा रही है, वहीं जो आरएईओ गांव में पोस्टेड हैं वे भी गांव में नहीं रहते हैं और शहर से सप्ताह में एक दो दिन ही गांव जाते हैं। ऐसे में किसान छोटी छोटी समस्या के लिए अफसरों से मिलने आते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *