27 May 2024
कला केंद्र में बच्चों को इसरो के वैज्ञानिक डॉक्टर रत्नेश मिश्रा और मानव धवन से बात करने का मिला मौका…. आविस्मर्णीय पल में बच्चों और आम लोगों ने चंद्रयान व आदित्य एल वी को लेकर किया अपनी शंकाओं का समाधान
आयोजन ख़बर जरा हटके राज्य शिक्षा

कला केंद्र में बच्चों को इसरो के वैज्ञानिक डॉक्टर रत्नेश मिश्रा और मानव धवन से बात करने का मिला मौका…. आविस्मर्णीय पल में बच्चों और आम लोगों ने चंद्रयान व आदित्य एल वी को लेकर किया अपनी शंकाओं का समाधान

अम्बिकापुर ।स्थानीय कला केंद्र में विज्ञान सभा सरगुजा द्वारा आम लोगों को और बच्चों को इसरो के वैज्ञानिक डॉक्टर रत्नेश मिश्रा और मानव धवन से बात करने का मौका मिल दिया गया . वहां उपस्थित सभी लोगों ने इसरो के से संबंधित जानकारियां ली,विज्ञान के संबंधित मॉडल देखें और चंद्रयान और आदित्य एल वी के बारे में जानकारी ली।इसके अलावा उन्होंने अपने शंकाओं के समाधान भी किया कार्यक्रम को सफल बनाने सेजस सोहगा से अक्षय रंजन वर्मा व्याख्याता हिंदी और उनके साथ आए विद्यार्थियों ने सक्रियता से भाग लिया तथा रामपुर से आस्था जायसवाल उनके साथ आए विद्यार्थियों ने अपनी शिरकत की, सेजस्नी केशवपुर नीतू यादव व्याख्याता रसायन,गंगा पेंकरा और उनके विद्यार्थियों ने भी अपनी शिरकत दी। इसके अलावा विज्ञान सभा सरगुजा से राजू गुप्ता व्याख्याता भौतिक,संगीता त्रिपाठी प्रोफेसर गणित पीजी कॉलेज ने भी सक्रिय भागीदारी दी। कार्यक्रम के अंत में विज्ञान सभा सरगुजा की अध्यक्ष डॉक्टर तृप्ति विश्वास ने इसरो के वैज्ञानिकों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया और धन्यवाद ज्ञापन नीतू यादव द्वारा किया गया। इसके अलावा कार्यक्रम में अपनी प्रक्रिया प्रतिक्रिया देने के लिए वहां उपस्थित समस्त व्यक्तियों बच्चों ने अपनी अपनी राय रखी। सभी को यह कार्यक्रम और अच्छा लगा। इसी क्रम में कन्या परिसर से अनुराधा श्रीवास्तव ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम और भी आयोजित किए जाने चाहिए। सभी ने इसके लिए विज्ञान सभा सरगुजा को साधुवाद और धन्यवाद दिया ।अंत में इसरो के वैज्ञानिक रत्नेश मिश्रा के द्वारा सरगुजा के सरगुजा विज्ञान सभा के इस कार्यक्रम की संयोजिका अनामिका चक्रवर्ती को स्मृति चिह्न दिया और उन्होंने कहा कि विज्ञान सभा का ये एक अत्यंत आविस्मार्णीय कार्य क्रम रहा। इस तरह के विज्ञान सभा सरगुजा के कार्य क्रमों में शहर में आगे भी अपनी शिरकत देंगे । विद्यार्थियों से बातचीत के क्रम मे केदारपुर शाला के कक्षा चौथी के विधार्थी देव कुमार, सोहगा के अनिल कुमार कक्षा छटवी ने सबको मुग्ध कर दिया और वैज्ञानिकों ने उनकी भूरी- भूरी प्रशंसा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *