28 May 2024
करंट से हाथी को मारा और कर दिए टुकड़े-टुकड़े, दो गिरफ्तार… इधर हाथी के कुचलने से युवक की मौत
क्राइम कार्रवाई राज्य समस्या

करंट से हाथी को मारा और कर दिए टुकड़े-टुकड़े, दो गिरफ्तार… इधर हाथी के कुचलने से युवक की मौत

सूरजपुर। जिले में फिर से एक हाथी की मौत का मामला सामने आया हैं। वन विभाग के मुताबिक हाथी की मौत स्वाभाविक नहीं हुई है बल्कि उसे करेंट देकर मारा गया था। आरोपियों ने अपने इस करतूत पर पर्दा डालने के लिए पहले हाथी के शव को टुकड़ों में बाँट दिया और फिर छिपा दिया ।घटना रामकोला वन परिक्षेत्र में हुई है। फिलहाल इस मामले में दो आरोपियों को हिरासत में लिया गया है। वन महकमा जांच में जुटा है कि आखिर हाथी की हत्या किस मकसद से की गई थी और क्या उसके अंग सुरक्षित है? सोमवार की सुबह लगभग सात बजे के आसपास क्षेत्र में विचरण कर रहे जंगली हाथियों के दल के एक हाथी ने एक ३५ वर्षीय युवक को कुचलकर मौत के घाट उतार दिया। वन परिक्षेत्र प्रतापपुर के ग्राम बैंकोना, सौतार व बांक नदी के बीच २७ हाथियों का दल रविवार की मध्य रात्रि से विचरण कर रहा है। हाथियों का यह दल किसानों की गन्ने की फसल को भारी नुकसान पहुंचा रहा है। अपनी गन्ने की फसल को बचाने के लिए किसान रात से ही हाथियों के दल को अपने स्तर पर दूर खदेड़ने का प्रयास कर रहे थे। पर गन्ने के खेतों में मौजूद हाथियों का दल टस से मस नहीं हो रहा था और लगातार गन्ने की फसल को बरबाद कर रहा था। सुबह होने पर किसान गन्ने के खेतों में डटे हुए हाथियों के दल को फिर से खदेड़ने के प्रयास में लग गए। तभी अचानक गन्ने के खेत में मौजूद हाथियों के दल के एक हाथी से बैकोना के करसीहापारा निवासी शिवमंगल पैकरा ३५ वर्ष पिता स्व. मोहरसाय का सामना हो गया। हाथी को सामने देखकर उसने अपनी जान बचाने के लिए भागने का प्रयास किया पर हड़बड़ाहट में वह नीचे गिर गया जिसके बाद हाथी ने उसे अपनी चपेट में लेते हुए सूंड से उठाकर नीचे पटक दिया जिसके कारण वह गंभीर रूप से घायल हो गया। जानकारी मिलते ही आनन फानन में बैंकोना निवासी भाजपा नेता थठला राम अन्य ग्रामीणों की मदद से गंभीर रूप से घायल युवक को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रतापपुर लेकर पहुंचे। इससे पहले की घायल युवक को उपचार मिल पाता उसकी मौत हो चुकी थी ।इस संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि हाथियों का दल अभी भी वहीं जमा हुआ है और लगभग दस से बारह किसानों के गन्ने की लाखों रुपए की फसल को खाकर चौपट कर चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *