13 June 2024
एसडीएम बंगला के बगल में स्थित पानी टंकी का मुख्य पाइप फटा, सैकड़ो घरों मे दो दिन से पानी के लिए मची त्राहि
अनियमितता आरोप राज्य समस्या

एसडीएम बंगला के बगल में स्थित पानी टंकी का मुख्य पाइप फटा, सैकड़ो घरों मे दो दिन से पानी के लिए मची त्राहि

प्रतापपुर। नगर पंचायत क्षेत्र में एसडीएम बंगला के बगल में स्थित पानी टंकी का मुख्य पाइप फट जाने के कारण सैकड़ो घरों मे दो दिन से पानी के लिए त्राहि त्राहि मची हुई है। वार्ड वासी सहित केनापारा ,ब्लॉक कॉलोनी,खोरमाँ, सहित कई क्षेत्रों में पाइपलाइन फट जाने से पानी की किल्लत से लोग जूझ रहे थे।

ज्ञात हो कि नगर पंचायत क्षेत्र में लगभग कई करोड़ की लागत से पीएचई विभाग नल जल योजना के तहत पानी टंकी सहित नया पानी पाइप लाइन का विस्तार हुआ था जिससे लोगों को पानी की किल्लत से राहत मिल सके। मगर क्षेत्र में पाइप लाइन में भी भारी भ्रष्टाचार व कमीशन खोरी का खेल हुआ था। पाइपलाइन को लगे करीब 6-7 साल ही हुआ है, उसके बावजूद पाइपलाइन जगह-जगह से अपने आप फटने लगे हैं ।कहीं-कहीं नाली के लिए खोदे जा रहे गड्ढों के कारण टूट फूट जा रहे, जिससे पानी की किल्लत से जनता बेहाल और परेशान है। कई बार अधिकारियों को शिकायत के बाद भी इस पाइपलाइन का सुधार अब तक नहीं हो पाया है ।

निरंतर पानी की कमी से जूझ रही जनता का जीना मुहाल हो गया है तथा जनता में आक्रोश का माहौल पनपता जा रहा है। शासन प्रशासन के ऊपर में सवाल खड़े किए जा रहे हैं घटिया पाइपलाइन का कारनामा करोड़ों का कमीशन खोरी के आगे इसकी पोल खोल रही है, और ठेकेदार भी जहां-तहां खुदाई करके पाइपलाइन को डैमेज कर रहे हैं।जब एसडीएम बंगले के बगल में लगे हुए नवनिर्मित पाइपलाइन का यह हाल है तो क्षेत्र के पाइप लाइनों का क्या हाल होगा यह आप समझ सकते हैं। जिसके कारण सैकड़ो घरों में पानी की किल्लत से हाहाकार मचा हुआ है।

नपं से करें संपर्क-पीएचई एसडीओ

इस विषय में पीएचई विभाग के एसडीओ दिनेश कुमार जैन ने कहा कि नगर पंचायत के द्वारा समस्त सुधार कार्य किया जाता है उनसे संपर्क करें।

देर शाम तक व्यवस्था होगी बहाल-सीएमओ

नगर पंचायत सीएमओ ने कहा कि आज बनाने का कार्य प्रारंभ कराया गया है। पीडब्ल्यूडी के द्वारा पाइपलाइन को कई जगह तोड़ दिया गया था जिसकी मरम्मत कराई जा रही है। देर शाम तक पानी सुचारू हो जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *