21 May 2024
ईशा के मृत्यु पर विजय के पर्व ईस्टर पर चर्चो में विशेष  प्रार्थना….देर रात तक मनी खुशियां, जमकर हुई आतिशबाजी
आस्था आयोजन राज्य

ईशा के मृत्यु पर विजय के पर्व ईस्टर पर चर्चो में विशेष  प्रार्थना….देर रात तक मनी खुशियां, जमकर हुई आतिशबाजी

अम्बिकापुर. प्रभु येशु का पुनरुत्थान अर्थात पास्का की वास्तविकता हम ख्रीस्तीयों के लिए आस्था व विश्वास का प्रमुख केंद्र बिंदु है हम मसीहियों का यह सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण त्यौहार है क्योंकि यही ख्रीस्तीय विश्वास की आधारशिला है ईसाई धर्म का अस्तित्व सिर्फ यीशु के पुनरुत्थान के कारण ही संभव हुआ है,

उक्त बातें अम्बिकापुर सरगुजा के रोमन काथलिक धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष बिशप अंतोनिस बड़ा ने प्रभु ईशा के मृत्यु पर विजय के पर्व ईस्टर की पूर्व संध्या पर नवापारा स्थित बेदाग इश्माता महा गिरिजाघर में समुदाय को संबोधित करते हुए अपने संदेश में कही।
खचाखच भरे  चर्च परिसर में शनिवार रात 10 बजे से विशेष प्रार्थना सभा प्रारम्भ हुई जो मध्य रात्रि तक चलती रही। पूण्य शनिवार की रात 10 बजे पास्का मोमबत्ती के आशीष के बाद समुदाय द्वारा घरों से लाई हुई मोमबत्तियां पास्का मोमबत्ती से प्रज्ज्वलित कर समस्त धर्म विधियां प्रारंभ हुई। समस्त  धार्मिक अनुश्ठान बिशप अंतोनिस बड़ा की अगुवाई में व्हीकर जनरल फादर विलियम उर्रे व पल्ली पुरोहित फादर जार्ज ग्रे कुजूर ने संयुक्त रूप से सम्पन्न कराई। इस दौरान पवित्र बाइबिल से नौ पाठों का वाचन डॉ रोजलिन एक्का श्रीमती क्रेसेंसिया लकड़ा, अंतोनिस लकड़ा, सिस्टर स्वेता व पारा टोलों से आये समुदाय के लोगों द्वारा किया गया।
रात 10 बजे से प्रारंभ होकर देर रात तक चले इस पूरे कार्यक्रम के दौरान बीच बीच में फादर अनुरंजन तिग्गा फादर जोन जयसवाल फादर मुक्ति व युवा संघ की टीम के भक्ति गीतों से चर्च परिसर गुंजायमान होता रहा। प्रभु यीशु को समर्पित भक्ति गीतों की प्रस्तुति को भक्तों ने खूब सराहा। सुसमाचार का वाचन फादर विलियम उर्रे ने किया। परम प्रसाद वितरण के साथ ही समस्त धार्मिक अनुश्ठान सम्पन्न हुए। रात 12 बजते ही चर्च की घंटियां बजना शुरू होते ही चर्च के बाजू में ही काथलिक युवा मंच के युवाओं  ने जमकर
आतिशबाजी कर अपनी खुशियों के संदेश को दिया।
इस अवसर इस अवसर पर महापौर अजय तिर्की,
लुण्ड्रा विधायक प्रबोध मिंज,फादर अमृत,फ़ा निर्दोष,फ़ा पीटर,फ़ा ज्ञान प्रकाश लकड़ा,फ़ा माइकल तिर्की, ई पीएचई प्रदीप खलखो,डॉ योगिता,सभापति फ्रांसिस केरकेट्टा, रुबेन तिग्गा,कुलदीप कुजूर,अरुण मिंज, जगजीत मिंज भानु दादा, बिपिन व युवा संघ,महिला संघ के पदाधिकारी,  सहित शहर में समुदाय द्वारा संचालित संस्थानों के प्रमुख फादर सिस्टर्स व हजारों की संख्या में मसीहिजन उपस्थित थे। कार्यक्रम को सफल बनाने में अम्बिकापुर पल्ली के सभी पारा पंचों का सराहनीय योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *