28 May 2024
आखिरकार पुलिस ने जवाहरनगर अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझा ही लिया …दो आरोपी गिरफ्तार…
क्राइम राज्य

आखिरकार पुलिस ने जवाहरनगर अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझा ही लिया …दो आरोपी गिरफ्तार…

कुसमी( अमित सिंह) ।

कोरंधा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत जवाहर नगर में एक महिला को कुल्हाड़ी से वार कर जान से मारने का मामला कोरन्धा थाना में सामने आया था। जिसमें पुलिस ने ग्रामीण जनता से पूछताछ किया ,पूछताछ करने के अनुसार पता चला कि शराब के नशे में जबरन अवैध संबंध बनाए जाने का विरोध करने पर दो व्यक्तियों ने घर में रखे कुल्हाड़ी से मारकर महिला को मौत के घाट उतार दिया, जिसके बाद 3 दिन तक आरोपि मृतक के घर की पहरेदारी कर झारखंड भागने के फिराक में थे। पुलिस ने दोनों आरोपियों को घेराबंदी कर धर दबोचा,विस्तृत जानकारी के अनुसार 4 जुलाई को प्रार्थी सिरसाय उरांव पिता कस्टू उम्र 70 वर्ष निवासी चड़रा पारा ग्राम जवाहर नगर थाना कोरन्ध थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया कि मेरी भतीजी बिलासो उराव अपने घर में मृत पड़ी हुई है। सूचना मिलने पर तत्काल देवेंद्र सिंह टेकाम थाना प्रभारी कोरंधा ने इसकी सूचना अपने उच्च अधिकारियों को दी। एस.डी.ओ.पी .कुसमी रितेश चौधरी ने थाना प्रभारी देवेंद्र सिंह टेकाम के साथ मौके पर जाकर निरीक्षण कर पाया कि मृतिका उम्र 45 वर्ष निवासी चडरा पारा जवाहर नगर अपने कमरे में मृत पड़ी है उसके सर पर चोट के निशान थे पूरे बदन में कीड़े लग गए थे। मामले की गंभीरता को देखते हुए तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को मामले की जानकारी पुलिस विभाग के द्वारा देते हुए महिला के जान पहचान के लोगों से पूछताछ की गई, जिस पर कोरधा थाना प्रभारी द्वारा पुलिस टीम तैयार कर घटनास्थल पर कैंप लगाकर गांव के लोगों से पूछताछ के दौरान ग्रामीणों के बताने के आधार पर द्वारिका प्रसाद एवं मंगल की गतिविधि संदिग्ध पाए जाने से उक्त संदिग्ध व्यक्तियों से कड़ाई से पूछताछ करने पर उन्होंने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि 1 जुलाई को दोपहर लगभग 12:00 बजे मृतिका बिलासों के घर द्वारिका एवं मंगल शराब का सेवन किए,सेवन करने हपर द्वारिका मृतिका के साथ अवैध संबंध बनाया थोड़ी देर बाद दोनों ने फिर से मृतिका से शारीरिक संबंध बनाने की जिद करते हुए जोर जबरदस्ती करने लगे तब मृतिका उन लोगों को फटकार लगाते हुए बोली तुम दोनों जोर-जबर्दस्ती करोगे तो पूरे गांव में हल्ला करके तुम्हें बदनाम कर दूंगी जिससे द्वारिका एवम मंगल डर गए मृतिका को मारने की नियत से उसके घर पर रखे कुल्हाड़ी से द्वारिका प्रसाद ने उसके सर पर प्राणघातक हमला कर दिया वहीं मंगल मृतिका चिल्ला ना सके इसलिए उसका मुंह दबा दिया मृतिका के मर जाने के पश्चात दोनों अपने घर चले गए और 3 दिन तक मृतिका घर के आसपास निगरानी करते हुए झारखंड अपने रिश्तेदार के भागने की फिराक में थे। उपरोक्त घटना में पुलिस ने आरोपियों द्वारा प्रयुक्त हथियार ,रक्त रंजित कपड़े को बरामद कर लिया । अपराध हत्या के आरोप में द्वारिका प्रसाद पिता लखपति उम्र 33 वर्ष एवम मंगल दोनों को न्यायिक रिमांड में जेल भेज दिया है अंधे कत्ल का रिपोर्ट दर्ज होने के 24 घंटे के अंदर इस मामले को सुलझाने में एसडीओपी रितेश चौधरी के नेतृत्व में थाना प्रभारी देवेंद्र सिंह टेकाम प्रधान आरक्षक अमूल कश्यप, वीरेंद्र सिंह चंदेल ,बाबूलाल, अनिल साहू, अनूप महिला आरक्षक सोनमती का सराहनीय योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *