26 May 2024
अच्छा मानसिक स्वास्थ्य ही खोलता है,खुशियों के द्वार-डॉ जे.के.रेलवानी
आयोजन राज्य शिक्षा स्वास्थ

अच्छा मानसिक स्वास्थ्य ही खोलता है,खुशियों के द्वार-डॉ जे.के.रेलवानी

अंबिकापुर…..होली क्रॉस वीमेन्स कॉलेज और डिस्ट्रिक्ट मेंटल हेल्थ सरगुजा के संयुक्त तत्त्ववधान में दिनांक 8/4/2054एवं 9/4/20424 को दो दिवसीय मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम के तहत  कार्यशाला का आयोजन किया गया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल अंबिकापुर में सिविल सर्जन के रूप में कार्यरत शहर के प्रसिद्ध शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ जे.के. रेलवानी उपस्थित थे जिन्होंने अच्छे मानसिक स्वास्थ्य को ही खुशियों तक पहुंचने का मार्ग बताया, इसके अलावा उपस्थित अतिथियों में डॉ विमल चंद्र पैंकरा  मेडिकल ऑफिसर डी.एम. एच.पी.डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल इसके अलावा कम्युनिटी नर्स सुश्री नीतू केसरी,श्रीमती सृष्टि चौरसिया,एवं श्री मनोज बीसेन सोशल वर्कर श्रीमती सुमित्रा बुनकर शामिल थे।कार्यक्रम का प्रारंभ डॉ सीमा मिश्रा विभागाध्यक्ष भूगोल द्वारा दिए गए स्वागत उद्बोधन से हुआ।
दीप प्रज्वलन मुख्य अतिथि ,अन्य अतिथिगण प्राचार्य व उपप्राचार्य द्वारा किए जाने के पश्चात कार्यक्रम के अगले चरण में मुख्य अतिथि महोदय व अन्य अतिथिगण का स्वागत प्राचार्य डॉ सिस्टर शांता जोसेफ एवं सोशल साइंस डीन डॉ तृप्ति पांडेय तथा सहायक प्राध्यापक ,अर्थशास्त्र डॉ नीना गुप्ता सहायक प्राध्यापक रसायन शास्त्र श्रीमती ममता कश्यप द्वारा पौधे प्रदान कर  किया गया,साथ ही मुख्य अतिथि महोदय व अन्य अतिथियों को प्राचार्य महोदया तथा वाणिज्य विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ विनोद गर्ग द्वारा स्मृति चिन्ह प्रदान कर उन्हे सम्मानित किया गया।
इसके पश्चात सोशल वर्क विभाग की छात्राओं द्वारा व्यथित मनुष्य की मनोदशा को नृत्य द्वारा जीवंत तरीके से व्यक्त किया गया।
कार्यशाला के प्रशिक्षक श्री पी.अतीत. राव ने विद्यार्थियों को विभिन्न गतिविधियों. खेलों व नृत्य और गीत के माध्यम से मानसिक स्वास्थ्य क्या है, मानसिक स्वास्थ्य को लेकर व्याप्त भ्रांतियां मानसिक रूप से बीमार होने के पीछे छिपे कारण बीमार व्यक्ति के साथ किया जाने वाला व्यवहार बेहतर मानसिक स्वास्थ्य के लिए किन बातों पर ध्यान देना और समझना जरूरी है,तथा अंधविश्वास  ,अज्ञानता की वजह से  जो समस्याएं उत्पन्न होती हैं ,उन्हें दूर करने के लिए किस प्रकार हम दूसरों की मदद कर सकते हैं ,इस बारे में बड़े ही सहज व रुचिकर ढंग से प्रशिक्षित किया।
प्राचार्य महोदया ने कार्यशाला के प्रशिक्षक के प्रति आभार व्यक्त करते हुए उन्हें स्मृति चिन्ह प्रदान कर उनको सम्मानित किया।
छात्राओं ने इस कार्यक्रम में  बढ़_चढ़ कर हिस्सा लिया, साथ ही महाविद्यालय के प्राध्यापक गण ने भी बहुत ही उत्साहपूर्ण वातावरण में अपनी सहभागिता निभाई।
इस पूरे कार्यक्रम की संरक्षक महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ सिस्टर शांता जोसेफ ने मानसिक स्वास्थ्य के अच्छे होने पर बल देते हुए इस विषय पर जागरुकता को प्राथमिकता देने की बात कही,कार्यक्रम में उप प्राचार्य डॉ सिस्टर मंजू टोप्पो भी उपस्थित रहीं।
कार्यक्रम के अंत में डॉ सीमा मिश्रा द्वारा औपचारिक आभार ज्ञापित किया गया।
सम्पूर्ण कार्यक्रम की रूपरेखा सोशल वर्क की विभागाध्यक्ष श्रीमती अल्मा मिंज ने अपने सहयोगियों सहायक प्राध्यापक  सुश्री प्रेरणा लकड़ा व सुश्री अंजना व विभाग के विद्यार्थियों की सहायता से तैयार किया।
निश्चित ही यह कार्यक्रम छात्राओं के लिए बहुत उपयोगी साबित होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *